Dost Ban Ban Ke Lyrics दोस्त बन बन के – Papon

दोस्त बन बन के मिले
मुझको मिटाने वाले
दोस्त बन बन के मिले
मुझको मिटाने वाले

मैंने देखे है कई रंग
बदलने वाले
दोस्त बन बन के मिले
मुझको मिटाने वाले

तुमने चुप रेह के
सितम और भी ढाया मुझ पर
तुमने चुप रेह के
सितम और भी ढाया मुझ पर

तुमसे अच्छे है
मेरे हाल पे हसने वाले
मैंने देखे है कई
रंग बदलने वाले

मैं तो इखलाक के हाथों ही
बिका करता हूँ
मैं तो इखलाक के हाथों ही
बिका करता हूँ

और होंगे तेरे बाजार में
बिकने वाले
मैंने देखे है कई
रंग बदलने वाले

आखरी बार सलाम ए दिले
मुश्तर ले लो
फिर ना लौटेंगे
शब ए हिजर पे रोने वाले

दोस्त बन बन के मिले
मुझको मिटाने वाले
मैंने देखे है कई
रंग बदलने वाले.

Dost ban ban ke mile
Mujhko mitane wale
Dost ban ban ke mile
Mujhko mitane wale

Maine dekhe hain kayi rang
Badalne wale
Dost ban ban ke mile
Mujhko mitane wale

Tumne chup reh ke
Sitam aur bhi dhaya mujh par
Tumne chup reh ke
Sitam aur bhi dhaya mujh par

Tumse acche hain
Mere haal pe hasne wale
Maine dekhe hain kayi
Rang badalne wale

Main toh ikhlaq ke hathon hi
Bika karta hoon
Main toh ikhlaq ke hathon hi
Bika karta hoon

Aur honge tere baazaar mein
Bikne wale
Maine dekhe hain kayi
Rang badalne wale

Aakhri baar salam-e-dile
Mushtar le lo
Phir na lautenge
Shab-e-hijr pe rone wale

Dost ban ban ke mile
Mujhko mitane wale
Maine dekhe hain kayi
Rang badalne wale.

Source link

Leave a Comment

close