Fidaai Lyrics – Rahul Jain

कोई मतलब पूछे जो प्यार का
तुझे याद कर लेता हूँ
धुंधली तस्वीर को दिल की
थोड़ी साफ़ कर लेता हूँ

कोई मतलब पूछे जो प्यार का
तुझे याद कर लेता हूँ
धुंधली तस्वीर को दिल की
थोड़ी साफ़ कर लेता हूँ

इस दर्द ऐ दिल की मैं ना चाहुँ दवाई
तेरी याद की कैद से ना चाहु रिहाई

फिदाई फिदाई
तेरे इश्क़ में
जुदाई जुदाई
तुझसे चाहूँ ना मैं जुदाई

आंसुओं का तेरे
मैं चाँद बनना चाहूँ
टूटा सा कोई मैं सितारा नहीं
रातों को तेरे
ख्वाब बनना चाहूँ
नींदों को और कोई गवारा नहीं

इस दर्द ऐ दिल की मैं ना चाहूँ दवाई
तेरी याद की कैद से ना चाहूँ रिहाई

फिदाई फिदाई
तेरे इश्क़ में
जुदाई जुदाई
तुझसे चाहूँ ना
मैं जुदाई
मैं जुदाई.

Koi matlab puche jo pyar ka
Tujhe yaad kar leta hoon
Dhundli tasveer ko dil ki
Thodi saaf kar leta hoon

Koi matlab puche jo pyar ka
Tujhe yaad kar leta hoon
Dhundli tasveer ko dil ki
Thodi saaf kar leta hoon

Is dard-e-dil ki main na chahun dawai
Teri yaad ki kaid se na chahu rihaai

Fidaai fidaai
Tere ishq mein
Judaai judaai
Tujhse chahun na main judaai

Aansuon ka tere
main chand banna chahun
Toota sa koi main sitara nahin
Raaton ko tere
khwaab banna chahun
Nindon ko aur koi gawara nahin

Is dard-e-dil ki main na chahun dawai
Teri yaad ki kaid se na chahun rihaai

Fidaai fidaai
Tere ishq mein
Judaai judaai
Tujhse chahun na
main judaai
Main judaai.

Source link

Leave a Comment

close