Hindustan Lyrics- Abhinav Shekhar

हिंदुस्तान..!

उन्नीस सौ उन्नीस सौ
बीस बीसवीं शताब्दी
बीसवीं हाँ
बीस बीसवीं शताब्दी

There was 21st century

1947 से और 1950 से
तिरंगा लेहराया हमने पूरे एहसास से
साँसों में आज़ादी लेके
घूमी ये आबादी जिसके पीछे किसने
दी कुर्बानी जानो इतिहास से
जानो इतिहास से
जानो इतिहास से

तू ही मेरा हिन्द है
तू ही मेरी जींद मेरी जान
तू ही मेरा है सब कुछ
तू मेरा हिंदुस्तान

तू ही मेरा हिन्द है
तू ही मेरी जींद मेरी जान
तू ही मेरा है सब कुछ
तू ही मेरा हिंदुस्तान

हिंदुस्तान..!

पला बढ़ा पढ़ा जाना मैंने
देश ही जिंद है
नॉर्थ ईस्ट वेस्ट कोस्टस
साऊथ और सिंध है
दुनिया भी घुमा
हर कल्चर में झूमा
लेकिन सारे जहां से
अच्छा जय हिन्द है

पर इतने साल बीतने के बाद भी गरीबी
आज़ाद है ये मुल्क पर क्राइम और फरेबी
आतंक से ये लड़ते हैं जवान अपने मरते हैं
और सिस्टम पूरा उनका है जो पैसो के करीबी

हिपोक्रेसी!
मुर्दाबाद, मुर्दाबाद
डेमोक्रेसी!
ज़िंदाबाद, ज़िंदाबाद

काला दिल कला मन
वाइट कुर्ता काला धन
ऐसी तैसी करनी जैसी
वादे झूठे टूटे हम

आम जनता
We The People
It’s Time For A Change
For The People

क्यूंकि बीसवीं नहीं
अब इक्कीसवी सदी है
रगो में बदलाव
उनकी बहती नदी है

क्रांति हो सीने में
शान्ति हो जीने में
देश बढ़ेगा सही सोच यदि है
हाँ.. सही सोच यदि है
सोच.. सही सोच यदि है
हाँ.. सही सोच यदि है

अब जनता प्यार भी है करती
और स्वीकार भी है करती
पर जो रंग बदले फिर
पलट के वार भी है करती
हर धरम यहां एक भाषाएं भी अनेक
हिंदुस्तान को सलाम पूरी दुनिया भी करती
हिंदुस्तान को सलाम ये दुनिया भी करती

तू ही मेरा हिन्द है
तू ही मेरी जींद मेरी जान
तू ही मेरा है सब कुछ
तू मेरा हिंदुस्तान

तू ही मेरा हिन्द है
तू ही मेरी जींद मेरी जान
तू ही मेरा है सब कुछ
तू ही मेरा हिंदुस्तान

हिंदुस्तान..!
हिंदुस्तान..!

Hindustan..!

Unnees sau unees sau
Bees beesvi shatabdi
Beesvi haan
Bees beesvi shatabdi

There was 21st century

1947 se aur 1950 se
Tiranga lehraya humne poore ehsaas se
Saanson mein azaadi leke
Ghumi yeh abaadi jiske piche kisne
Di kurbaani jaano itihaas se
Jaano itihaas se
Jaano itihaas se

Tu hi mera hind hai
Tu hi meri jind meri jaan
Tu hi mera hai sab kuch
Tu mera hindustan

Tu hi mera hind hai
Tu hi meri jind meri jaan
Tu hi mera hai sab kuch
Tu hi mera hindustan

Hindustan..!

Pala badha padha jana maine
Desh hi jind hai
North east west coasts
Sauth aur sindh hai
Duniya bhi ghuma
Har culture mein jhuma
Lekin saare jahaan se
Accha jai hind hai

Par itne saal beetne ke baad bhi gareebi
Azaad hai yeh mulk par crime aur farebi
Aatank se yeh ladte hain jawaan apne marte hain
Aur system pura unka hai jo paiso ke kareebi

Hypocrisy!
Murdabad, murdabad
Democrasy!
Zindabad, zindabad

Kala dil kala mann
White kurta kala dhan
Aisi taisi karni jaisi
Vaade jhuthe toote hum

Aam janta
We the people
It’s time for a change
For the people

Kyunki beesvi nahin
Ab ikkeesvi sadi hai
Ragon mein badlaav
Unki behti nadi hai

Kranti ho seene mein
Shaanti ho jeene mein
Desh badhega sahi soch yadi hai
Haan.. Sahi soch yadi hai
Soch.. Sahi soch yadi hai
Haan..sahi soch yadi hai

Ab janta pyaar bhi hai karti
Aur sweekaar bhi hai karti
Par jo rang badle phir
Palat ke vaar bhi hai karti
Har dharam yahaan ek
Bhashaayein bhi anek
Hindustan ko salaam puri duniya bhi karti
Hindustan ko salaam ye duniya bhi karti

Tu hi mera hind hai
Tu hi meri jind meri jaan
Tu hi mera hai sab kuch
Tu mera hindustan

Tu hi mera hind hai
Tu hi meri jind meri jaan
Tu hi mera hai sab kuch
Tu hi mera hindustan

Hindustan..!
Hindustan..!

Source link

Leave a Comment

close