Kaabil-E-Tareef Lyrics | Lekka | Gurnazar

 

Song Title – Kaabil-E-Tareef
Director – Nitish Raizada
Starring – Lekka, Gurnazar
Music – Gaurav Dev, Kartik Dev
Singer – Lekka, Gurnazar
Lyricist – Gurnazar
Music Label – Sony Music India

Jinni vaari tainu vekhan

Bas vekhi jaan da dil karda ae

Bas tere baare soch soch ke hi sohneya

Mera din langda ae

I know apne chehre pe hi

Sunna apni hi tareefein

Lagta hai thoda sa azeeb

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

Pyar mein hain hum humara kya kasoor

Tabhi toh milne aa jatein hain aapse huzoor

Bacchon ki tarah dil zid karta hai

Kaise karein ignore yeh kare mazboor

Ab khud hi bata do ji ilaaj humara

Hum toh ban chuke hain aapke mareez

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

Oh humare liye toh

Ji yeh bhi badi baat hai

Mauka mila hai

Aur hum tumhare saath hain

Arre humse achhe lakhon

Mil sakte hain aapko

Aapko thukrayen humari kya aukaat

Itne pyar se jo tumne

Humko pyar kar liya nazar ji

Ban gaye hai aapke mureed

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

Kaabil-e-tareef hai teri har cheez

Teri har cheez hai kaabil-e-tareef

जिंनी वारी तैनु वेखन

बस वेखी जान दा दिल करदा ए

बस तेरे बारे सोच सोच के ही सोहणेया

मेरा दिन लंगदा ए

ई नो अपने चेहरे पे ही

सुनना अपनी ही तारीफें

लगता है तोड़ा सा अज़ीब

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

प्यार में हैं हम हमारा क्या कसूर

तभी तो मिलने आ जातें हैं आपसे हुज़ूर

बच्चों की तरह दिल ज़िद करता है

कैसे करें इग्नोर ये करे मज़बूर

अब खुद ही बता दो जी इलाज़ हमारा

हम तो बन चुके हैं आपके मरीज़

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

ओह हमारे लिए तो

जी ये भी बड़ी बात है

मौका मिला है

और हम तुम्हारे साथ हैं

अरे हमसे अच्छे लाखों

मिल सकते हैं आपको

आपको ठुकराएं हमारी क्या औकात

इतने प्यार से जो तुमने

हमको प्यार कर लिया नज़र जी

बन गये है आपके मुरीद

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

काबिल-ए-तारीफ है तेरी हर चीज़

तेरी हर चीज़ है काबिल-ए-तारीफ

Leave a Comment

close