Mere Haal Pe Roya Lyrics – Aaniya Sayyed

Mere Haal Pe Roya Lyrics

Yun mere haal pe roya
Aaj dil mera
Jaise ho chubha seene mein
Koi khanjar gehra

Jaag utha phir wahi bedard
Mohabbat ka gum
Chot aisi lagi ke hai taaza
Aaj bhi woh zakham

De gaye sham-e-fiza yun
Woh jaate jaate, aa…

De gaye sham-e-fiza yun
Woh jaate jaate
Umar kat jaaye yeh baharein
Nayi aate aate

Roz pee ke zehar sehte hain hum
Yaadon ka sitam
Chot aisi lagi ke hai taaza
Aaj bhi woh zakham

Jaag utha phir wahi bedard
Mohabbat ka gum
Chot aisi lagi ke hai taaza
Aaj bhi woh zakham.

यूँ मेरे हाल पे रोया
आज दिल मेरा
जैसे हो चुभा सीने में
कोई खंजर गहरा

जाग उठा फिर वही बेदर्द
मोहब्बत का गम
चोट ऐसी लगी के है ताज़ा
आज भी वो ज़ख़म

दे गए शाम-ए-फ़िज़ा यूँ
वो जाते जाते, आ…

दे गए शाम-ए-फ़िज़ा यूँ
वो जाते जाते
उम्र कट जाए ये बहारें
नई आते आते

रोज़ पी के ज़हर सहते हैं हम
यादों का सितम
चोट ऐसी लगी के है ताज़ा
आज भी वो ज़ख़म

जाग उठा फिर वही बेदर्द
मोहब्बत का गम
चोट ऐसी लगी के है ताज़ा
आज भी वो ज़ख़म.

Leave a Comment

close