Meri Tarah Lyrics in Hindi & English – Jubin, Payal

Meri Tarah Lyrics
Pic Credit: T-Series (YouTube)

Meri Tarah Lyrics penned by Kunaal Vermaa, music score provided by Payal Dev, and sung by Jubin Nautiyal & Payal Dev.

Meri Tarah Song Credits

Meri Tarah Lyrics in English

Kaun Hai Woh… Duniya Mein Jo
Tujhe Mujhse Badkar Chahne Laga
Jiske Liye Tu Haath Mera
Ek Pal Mein Chhod Ke Jaane Lagaa

Kaun Hai Woh Duniya Mein Jo
Tujhe Mujhse Badhkar Chahne Laga
Jiske Liye Tu Haath Mera
Ek Pal Mein Chhod Ke Jaane Laga

Tu Soch Samajh Kar… Chaaho Use
Tu Dil Mujse Milwa Use
Mein Bhi Toh Dekhu Pyaar
Mein Woh Kya Kar Sakta Hain

Kya Woh Jo Bhi Kehta Hai Woh
Sach Mein Kar Sakta Hein
Kya Meri Tarah Woh Tujhpar
Haske Mar Sakta Hai

Kya Woh Jo Bhi Kehta Hai Woh
Sach Mein Kar Sakta Hein
Kya Meri Tarah Woh Tujhpar
Haske Mar Sakta Hai
Haske Mar Sakta Hai

Bahut Fark Hota Hai Yun
Saath Muskaraane Mein
Haat Thamne Mein Aur
Zindagi Bitaane Mein

Jeene Marne Ki Baatein
Karke Bhool Jaate Hai
Kya Kisika Jaaye Jhute
Khaawab Sa Dikhane Mein

Tum Galiyon Mein Apni Bulao Zara
Mere Jitne Kaante Bichhao Zara
Bina Uff Kiye Kya Inpe
Woh Bhi Guzar Saktha Hai

Kya Woh Jo Bhi Kehta Hai
Woh Sach Mein Kar Saktha Hai
Kya Meri Tarah Woh Tujh Par
Hasske Mar Sakta Hai

Kya Woh Jo Bhi Kehta Hai
Woh Sach Mein Kar Sakta Hai
Kya Meri Tarah Woh Tujh Par
Hasske Mar Sakta Hai

Ab Yaad Rakhega Kaun Kise
Yeh Waqt Ko Tai Kar Lene De
Karde Khushiyon Ki Baarish Uss Par
Aankh Mujhe Bhar Lene De

Na Shor Hua Aawaz Hui
Jab Jab Dil Sacha Toota Hai
Pucho Sabse Se Sabko Apne
Chahne Walon Ne Loota Hai

Na Aas Rahe… Na Saans Rahe
Hum Bhi Patthar.. Ho Jayenge
Tum Ho Jayoge Gairon Ke
Hum Toh Khud Ke
Hi Na Ho Payenge Ho Payenge

Teri Dhadkanon Ke Jariye
Main Bhi Toh Dhadakti Hoon
Tujhe Kaise Dil Se Mere
Door Kar Sakthi Hoon

Jaisi Bhi Ho Raahein Chahe
Haan Main Chal Sakthi Hoon
Tujhe Dekh Kar Jeeti Hoon

Tujhpe Mar Sakthi Hoon
Tujhpe Mar Sakti Hoon
Tujhpe Mar Sakti Hoon
Tujhpe Mar Sakti Hoon

Watch मेरी तराह Video Song


Meri Tarah Lyrics in Hindi

कौन है वोह दुनिया मेंजो
तुझे मुझसे बढ़कर चाहने लगा
जिसके लिए तू हाथ मेरा
एक पल में छोड़ के जाने लगा

कौन है वोह दुनिया मेंजो
तुझे मुझसे बढ़कर चाहने लगा
जिसके लिए तू हाथ मेरा
एक पल में छोड़ के जाने लगा

तुम सोच समझकर चाहो उसे
तू दिल मुझसे मिलवा उसे
मैं भी तो देखूँ प्यार मैं
वोह क्या कर सकता है

क्या वोह जो भी केहता है वोह
सच में कर सकता है
क्या मेरी तराह वोह तुझपर
हस के मर सकता है

क्या वोह जो भी केहता है वोह
सच में कर सकता है
क्या मेरी तराह वोह तुझपर
हस के मर सकता है
हस के मर सकता है

बहोत फर्क होता है यूँ
साथ मुस्कुराने में
हाथ थामने में और
ज़िंदगी बीटाने में

जीने मरने की बातें
करके भूल जाते है
क्या किसीका जाये झूठे
ख्वाब सा दिखाने में

तुम गलियों में अपनी बुलाओ जरा
मेरे जीतने कांटे बिछाओ जरा
बिना उफ्फ़ किए क्या इनपे
वोह भी गुजर सकता है

क्या वोह जो भी केहता है वोह
सच में कर सकता है
क्या मेरी तराह वोह तुझपर
हस के मर सकता है

क्या वोह जो भी केहता है वोह
सच में कर सकता है
क्या मेरी तराह वोह तुझपर
हस के मर सकता है

अब याद रखेगा कौन किसे
ये वक्त को तेह कर लेने दे
करदे खुशियों की बारिश उस पर
आँख मुझे भर् लेने दे

ना शोर हुआ आवाज हुई
जब जब दिल सच्चा टूटा है
पूछो सबसे सबको अपने
चाहने वालों ने लूटा है

ना आंस रहे ना साँस रहे
हम भी पत्थर हो जायेंगे
तुम हो जाओगे गैरों के
हम तोह खुद के ही ना हो पायेंगे, हो पायेंग

तेरी धड़कनों के जरिये
मैं भी तोह धड़कती हूँ
तुझे कैसे दिल से मेरे
दूर कर सकती हूँ

जैसे भी हो राहें चाहे
हां मैं चल सकती हूँ
तुझे देख कर जीती हूँ

तुझपे मर सकती हूँ
तुझपे मर सकती हूँ
तुझपे मर सकती हूँ
तुझपे मर सकती ह

Leave a Comment

close