Peg Daariya Lyrics – Adhyayan Suman, Ruchika Chauhan

तू तो जाने है ना
तुझे सब पता
जो रोग मेरा

जो ठिकाने पे था
है अब ना रहा
ये मन मनचला

जो उमर भर सफ़र
की देते जुबां
है सब लापता

ले तू आघोष में
हो जब तक सुबाह
आ कर ले खता

ये ज़माना क्यूँ चाहे
छुड़ाना है साथ तेरा
तू ही तो देती वफ़ा

है कमाना अगर
जिंदगी मैं मोहब्बतें
तो संग तेरे ही है दबा

पेग दारिया
पेग दारिया
पेग दारिया
पेग दारिया

तेरी यारी पे हम
मरते रहे, मरते रहे
तुझसे दिल के जखम
भरते रहें, भरते रहें

जो भी मिलती ख़तम
करते रहें, करते रहें
गम पे रख के कदम
ऊपर हम चढ़ते रहें

हरदम तेरी यारियों ने
जख्मो पे मेरे
अपनों सा मरहम मला

बर्फ की पर तू साथी
मैं बी में हीं सही पर
तुझमे मिलके गम मेरा घला

दिल लगाना ज़माने से
मेहंगा पड़ा मुझे क्यूँ
टुटा ये हर मरतबा

है कामना अगर
जिंदगी मैं मोहब्बतें
तो संग तेरे ही है दबा

पेग दारिया
पेग दारिया
पेग दारिया
पेग दारिया.

Tu to jane hai na
Tujhe sab pata
Jo rog mera

Jo thikane pe tha
Hai ab na raha
Ye mann manchala

Jo umar bhar safar
Ki dete jubaan
Hai sab laapata

Le tu aghosh mein
Ho jab tak subah
Aa kar le khata

Ye zamana kyun chahe
Chhudana hai saath tera
Tu hi to deti wafaa

Hai kamana agar
Zindagi mein mohabbatein
To sang tere hi hai daba

Peg daariya
Peg daariya
Peg daariya
Peg daariya

Teri yaari pe hum
Marte rahe, marte rahe
Tujhse dil ke zakham
Bharte rahe, bharte rahe

Jo bhi milti khatam
Karte rahe, karte rahe
Ghum pe rakh ke kadam
Upar hum chadhte rahe

Hardam teri yaariyon ne
Zakhmon pe mere
Apno sa marham mala

Barf ki par tu saathi
Main b mein hi sahi par
Tujh mein milke ghum mera ghala

Dil lagana zamane se
Mehnga pada mujhe kyun
Toota ye har martaba

Hai kamana agar
Zindagi mein mohabbatein
To sang tere hi hai daba

Peg daariya
Peg daariya
Peg daariya
Peg daariya.

Leave a Comment

close