Shailputri Mata Aarti Lyrics in Hindi – Lyrics Song

शैलपुत्री माता आरती लिरिक्स | Shailputri Mata Aarti Lyrics

इस लेख में मेने माँ शैलपुत्री की आरती लिरिक्स साँझा किये है इसको करने और सुनने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। माता शैलपुत्री देवी दुर्गा के नौ रूप में पहले स्वरूप में जानी जाती हैं। ये ही नवदुर्गाओं में प्रथम दुर्गा हैं। पर्वतराज हिमालय के घर पुत्री रूप में उत्पन्न होने के कारण इनका नाम ‘शैलपुत्री’ पड़ा। नवरात्र-पूजन में प्रथम दिवस इन्हीं की पूजा और उपासना की जाती है

माँ शैलपुत्री की आरती लिरिक्स

जय शैलपुत्री माता
मैया जय शैलपुत्री माता ।
रूप अलौकिक पावन
शुभ फल की दाता ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

हाथ त्रिशूल कमल तल
मैया के साजे ।
शीश मुकुट शोभामयी
मैया के साजे ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

दक्षराज की कन्या
शिव अर्धांगिनी तुम ।
तुम ही हो सती माता
पाप विनाशिनी तुम ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

वृषभ सवारी माँ की
सुन्दर अति पावन ।
सौभाग्यशाली बनता
जो करले दर्शन ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

आदि अनादि अनामय
तुम माँ अविनाशी ।
अटल अनत अगोचर
अतुल आनंद राशि ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

नौ दुर्गाओं में मैया
प्रथम तेरा स्थान ।
रिद्धि सिद्धि पा जाता
जो धरता तेरा ध्यान ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

प्रथम नवरात्रे जो माँ
व्रत तेरा धरे ।
करदे कृपा उस जन पे
तू मैया तारे ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

मूलाधार निवासिनी
हमपे कृपा करना ।
लाल तुम्हारे ही हम
द्रष्टि दया रखना ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

करुणामयी जगजननी
दया नज़र कीजे ।
शिवसती शैलपुत्री माँ
चरण शरण लिजे ।।

जय शैलपुत्री माता ।।

Jai Shailputri Mata Aarti Lyrics in Hindi | Navratri 1st Day Mata Shailputri Aarti lyrics

Jai Shailputri Mata
Maiya Jai Shailputri Mata ।
Roop Alokik Paawan
Shubh Fal Ki Data ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Haath Trishool Kamal Tal
Maiya Ke Saaje ।
Shish Mukut Shobhamayi
Maiya Ke Raaje ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Dakshraj Ki Kanya
Shiv Ardhangini Tum ।
Tum Hi Ho Sati Mata
Paap Vinashini Tum ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Vrishabh Sawari Maa Ki
Sundar Aati Paawan ।
Sobhagyashali Banta
Jo Karle Darshan ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Aadi Anadi Anamay
Tum Maa Avinashi ।
Atal Anant Agochar
Atual Aanand Rashi ।।

Jai Shailputri Mata ।।

No Durgaoo Me Maiya
Pratham Tera Sthaan ।
Riddhi Siddhi Paa Jata
Jo Dharta Tera Dhyan ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Pratham Noratre Jo Maa
Vrat Tera Dhare ।
Karde Kripa Us Jan Pe
Tu Maiya Taare ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Mooladhar Nivashini
Humpe Kripa Karna ।
Laal Tumhare Hi Hum
Drashti Daya Rakhna ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Karuna Mayi Jagjan’ni
Daya Nazar Kije ।
Sivasati Shailputri Maa
Charan Sharan Lije ।।

Jai Shailputri Mata ।।

Leave a Comment

close