Tabaahi Lyrics

Tabaahi Lyrics

Song Title: Tabaahi
Lyrics by: Abhinav Shekhar
Singer: Abhinav Shekhar
Composer: Abhinav Shekhar

Wah!
Mera bhai full high kyun
Wait
This is no smoking zone

Tabahi hai tabahi
Tabahi hai tabahi
Saare bolein mere yaar bhai
Tu tabahi hai tabahi

Dhuan ghusa pada hai
Kab se tere mastishk mein
Dhad tera dhara pe
Par ude tu antariksh mein

Tabahi hai tabahi
Tabahi hai tabahi
Saare bolein mere yaar bhai
Tu tabahi hai tabahi

Doosron ko chhod
Khud ko dekh tu aaine mein
Kamiyan nikaal milti
Thandak kya seene mein

Aazma ke dekh tere shabd kitne fake
Na to apne khush hain tumse
Kya rakha hai aise jeene mein

Haan!
Kya rakha hai aise jeene mein
Aise jeene mein jeene mein
Kya rakha hai aise jeene mein

Pehchan ho nageene mein
Naam aisa chahiye
Chahin mere seene mein
Daam aisa chahiye
Behte paseene mein
Aaram aisa chahiye
Ke aaye maza jeene
Kaam aisa chahiye

Tabahi hai tabahi
Tabahi hai tabahi
Meri baatein woh tabahi
Jo machaye hai tabahi
Kadvi ghoont sareekha
Arre bhai bhai bhai
Arre bhai bhai bhai

Tabahi hai tabahi
Tabahi hai tabaahi
Saare bolein mere yaar bhai
Tu tabaahi hai tabaahi

Ghoomte gali sirhane
Rakh ke khud ki pehchane
Phir bhi maane khud ko shaane
Jaake naake pe hi lagti
Inki akal thikaane
Yeh josheele jo gaye the
Ab nasheele ban ke aa rahe

Thode laapata se
Thode hain khafa se
Khud ko door kyon rakha hai
Tumne apnon ke wafa se
Bolo kyon rakh hai
Har dafa se unn wafa se kyon
Kyon rakha hai

Zindagi to ek hai
Khushgi khushi bitana hai
Hosh mein na reh sake
To khaak dil lagana hai

Aakh se sudan se
Phisal rahe lagam se
Sambhal gaye to theek
Warna bura zamana hai

Haalat thodi tight hai aaha
Khud se hi fight hai
Self motivation ki zarurat hai guru
Hangover khatam ab tabaahi shuru

Tabaahi hai tabaahi
Tabaahi hai tabaahi
Saare bolein mere yaar bhai
Tu tabaahi hai tabaahi
Tabaahi hai tabaahi

Tabaahi Lyrics

वा!
मेरा भाई फुल हाइ क्यूँ
वेट
तीस इस नो स्मोकिंग ज़ोन

तबाही है तबाही
तबाही है तबाही
सारे बोलें मेरे यार भाई
तू तबाही है तबाही

धुआँ घुसा पड़ा है
कब से तेरे मस्तिष्क में
धड़ तेरा धारा पे
पर उड़े तू अंतरिक्ष में

तबाही है तबाही
तबाही है तबाही
सारे बोलें मेरे यार भाई
तू तबाही है तबाही

दूसरों को छ्चोड़
खुद को देख तू आईने में
कमियाँ निकाल मिलती
ठंडक क्या सीने में

आज़मा के देख तेरे शब्द कितने फेक
ना तो अपने खुश हैं तुमसे
क्या रखा है ऐसे जीने में

हन!
क्या रखा है ऐसे जीने में
ऐसे जीने में जीने में
क्या रखा है ऐसे जीने में

पहचान हो नगीने में
नाम ऐसा चाहिए
चाहीँ मेरे सीने में
दाम ऐसा चाहिए
बहते पसीने में
आराम ऐसा चाहिए
के आए मज़ा जीने
काम ऐसा चाहिए

तबाही है तबाही
तबाही है तबाही
मेरी बातें वो तबाही
जो मचाए है तबाही
कड़वी घूँट सरीखा
अर्रे भाई भाई भाई
अर्रे भाई भाई भाई

तबाही है तबाही
तबाही है तबाही
सारे बोलें मेरे यार भाई
तू तबाही है तबाही

घूमते गली सिरहाने
रख के खुद की पहचाने
फिर भी माने खुद को शाने
जाके नाके पे ही लगती
इनकी अकल ठिकाने
यह जोशीले जो गये थे
अब नशीले बन के आ रहे

थोड़े लापता से
थोड़े हैं खफा से
खुद को डोर क्यों रखा है
तुमने अपनों के वफ़ा से
बोलो क्यों रख है
हर दफ़ा से उन्न वफ़ा से क्यों
क्यों रखा है

ज़िंदगी तो एक है
खुशगी खुशी बिताना है
होश में ना रह सके
तो खाक दिल लगाना है

आख से सूडान से
फिसल रहे लगाम से
संभाल गये तो ठीक
वरना बुरा ज़माना है

हालत थोड़ी टाइट है आहा
खुद से ही फाइट है
सेल्फ़ मोटिवेशन की ज़रूरत है गुरु
हॅंगओवर ख़तम अब तबाही शुरू

तबाही है तबाही
तबाही है तबाही
सारे बोलें मेरे यार भाई
तू तबाही है तबाही
तबाही है तबाही

 

See Also Nayan Song Lyrics

Leave a Comment